2020 -21मध्यप्रदेश के सभी जिलों में खुलेंगे पूर्व प्राथमिक स्कूल -बड़ी संख्या में नियुक्त होंगे शिक्षक।

भोपाल . कमलनाथ सरकार प्रदेश के सभी जिलों में प्री – प्राइमरी स्कूल खोलने की तैयारी कर रही है स्कूल शिक्षा विभाग ने कलेक्टरों प्रस्ताव मांगे हैं । प्रस्ताव तैयार करने से पहले प्राइमरी और मिडिल स्कूलों के आसपास की बसाहटों और स्कूलों में उपलब्ध संसाधनों के आधार पर जिला स्तर पर रिपोर्ट तैयार की जाएगी । सरकार ने 2019 में भोपाल , सागर , सीहोर , छिंदवाड़ा और शहडोल जिले में 15 सौ प्री – प्राइमरी स्कूल खोले थे । बेहतर परिणमों को देखते हुए सरकार ने इन स्कूलों में कजी – 1 से बढ़ाकर कजी – 2 की कक्षाएं संचालित करने के लिए कहा है । अन्य जिलों में भी प्री प्राइमरी स्कूल खोलने का निर्णय लिया गया है । प्रस्ताव भेजने से पहले जिला शिक्षा अधिकारियों को यह बताना होगा जिन प्राइमरी मिडिल स्कूलों में प्री – प्राइमरी स्कल खोल रहे हैं वहां 6 वर्ष से कम उम्र के बच्चों की संख्या क्या है ।

अतिरिक्त कक्ष भवन और शिक्षकों की उपलब्धता कितनी है । बिजली , पानी है अथवा नहीं है । इन स्कूलों से आंगनबाड़ी केन्द्रों की दूरी कितनी है । इन स्कूलों में बाउंड्रीवॉल और बच्चों की सुरक्षा क्या इंतजाम हैं । यह स्कूल वर्ष 2020 – 21 से प्रारंभ हो जाएंगे । अगर इनमें कुछ संसाधन नहीं उपलब्धहता उसकाव्यवस्था सत्र शुरू होने से पहले की जाए । जिन स्कूलों में प्री प्राइमरी स्कूल संचालन की अनुमति दी जाएंगी उन्हें इसका प्रचार प्रसार भी करना होगा । इधर केजी – 2 के पाठ्यक्रम भी तैयार किया जा रहे हैं , जिससे शिक्षा सत्र शुरू होने से पहले पाठ्यक्रम और किताबें बच्चों उपलब्ध कराई जा सका ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.