MPTET Document Verification rules दस्तावेज सत्यापन की पूरी प्रक्रिया -उच्च तथा माध्यमिक शिक्षक ।

उच्च माध्यमिक एवम माध्यमिक शिक्षकों के नियोजन के पूर्व दस्तावेज सत्यापन के सम्वन्ध में दिशा निर्देश।

Advertisement

MPTET Document Verification rules RULE – 1 . सत्यापन के दौरान केवल सारभूत कारणों से किसी दस्तावेज को अमान्य किया जा सकेगा । सामान्य टंकण त्रुटि वर्तनी / अक्षर दिन्यास के आधार पर किसी दस्तावेज को अमान्य न किया जाये । विवाह के कारण होने वाले उपनाम में होने वाले परिवर्तन के आधार पर किसी दस्तावेज को अस्वीकार नही किया जा सकेगा । इसी प्रकार परम्परा के अनुसार पिता अथवा पूर्वजों के नाम / उपनाम को आधार बनाकर दस्तावेजों को अस्वीकार नही किया जाना चाहिए । किसी भी प्रकार के विरोधाभासी स्थिति में वरिष्ठ कार्यालय से आवश्यक मार्गदर्शन प्राप्त किया जा सकता है ।

2 पी . ई . बी . द्वारा आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 हेतु परीक्षार्थी द्वारा ऑनलाईन आवेदन में की गई जन्मतिथि की प्रविष्टि एवं कक्षा 10वी / 12वी उत्तीर्ण की अंकसूची से भिन्नता पायी जाती है तो उस अभ्यार्थी की कक्षा 10वी / 12वीं उत्तीर्ग की अकसूची में अंकित जन्मतिथि मान्य होगी । यदि अभ्यर्थी द्वारा मध्यप्रदेश के बाहर किसी अन्य राज्य शिक्षा मंडल से कक्षा 10वी अथवा 12 वी की अंकसची धारण करता है , जिसमें उसकी जन्मतिथि अकित नहीं की गई है तो ऐसी स्थिति में सर्वप्रधम इस तथ्य पर विचारण आवश्यक होगा कि उस राज्य में जन्मतिथि मान्य किये संबंध में किन दस्तावेजों को मान्य किया जाता है ।

इसी प्रकार कक्षा 10वी अथवा 12वीं की प्रस्तुत न कर यदि अभ्यार्थी द्वारा किसी अन्य दस्तावेज को माध्यम से जन्मतिथि को प्रस्तुत किया जाता है तो सबसे पहले उसकी मूल अंकसूची का अवलोकन कर यह आवश्यक होगा कि उसकी अंकसूची में जन्मतिथि अंकित है अथवा नही ।

स्नातक परीक्षा जिस विषय में उत्तीर्ण की गई है , उस विषय की अनुसार ) माध्यमिक शिक्षक के नियोजन हेतु मान्य होगी

3। फाउण्डेशन । अंग्रेजी उत्तीर्ण परीक्षार्थी माध्यमिक शिक्षक हिन्दी एवं अग्रेजी विषय के पर मान्य नही होगी ।

4पी . ई . बी . द्वारा आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 में जिन परीक्षार्थियों के रुप में दर्ज कराया गया है उनके अनुभव प्रमाण – पत्र मान्य होगें । यहाँ स्कल शिक्षा विभाग / जनजातीय कार्य विभाग द्वारा दिये गये निर्देशों के यह स्पष्ट किया जाता है कि स्कूल शिक्षा विभाग / जनजातीय कार्य विमा अधीन तथा निर्धारित प्रक्रिया के अनुसार कार्यरत अतिथि पक्रिया के अनुसार कार्यरत अतिथि शिक्षकों के अनुभवों को ही मान्यता दी जानी है

यहाँ यह स्पष्ट किया जाता है कि प्राथमिक , माध्यमिक अथवा उच्चतर माध्यामा नियोजित प्रत्येक अतिथि शिक्षक को समान मान्यता दी जानी है ।

यहाँ यह भी स्पष्ट किया जा रहा है कि अन्य विभाग जैसे उच्च शिक्षा आदि ( अतिथि विद्वान राज्य के बाहर से प्राप्त इस प्रकार को अनुभव प्रमाण – पत्रों को मान्यता नहीं दा जा रही है।

5 . पी . ई . बी . द्वारा आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा 2018 हेतु परीक्षार्थियों द्वारा ऑनलाइन आवेदन द्वारा उसके द्वारा अंकित विवरण ही मान्य किया जाना है । इसमें यदि किसी अभ्याथी द्वारा किसी प्रकार के परिवर्तन अथवा त्रुटि सुधार की अपेक्षा की जाती है तो इसका निर्णय वरिष्ट स्तर पर ही किया जा सकेगा । सत्यापन के दौरान इस तरह के मामलों में किसी प्रकार विचारण नही किया सकेगा ।

MPTET Document Verification rules

6 अन्य पिछड़ा वर्ग के संबंध में केवल क्रीमीलेयर में न आने वाले अभ्यार्थियों के पक्ष में ही प्रमाण – पत्र जारा किये जाने के उपबन्ध है तथा इसके लिए अनुविभागीय अधिकारी ( राजस्व ) सक्षम प्राधिकारी द्वारा अन्य को अनारक्षित मान्य किया जाना है ।

MPTET Document Verification rules दस्तावेज सत्यापन की पूरी प्रक्रिया -उच्च तथा माध्यमिक शिक्षक rule ।7 . विषय तथा वर्गवार निर्धारित दस्तावेजों के अतिरिक्त किसी अभ्यर्थी से किसी अन्य दस्तावेज की मांग नहीं की जा सकती है ।

सत्यापनकर्ता को अभ्यर्थी द्वारा अपलोड किये गये दस्तावेजों का ही मूल दस्तावेजों से सत्यापन करना है ।

किसी दस्तावेज की अनुपलथता की दशा में किसी प्रकार के अन्य दस्तावेज की मांग अथवा शपथ – पत्र आदि यो ग्राहय किया जाना पूरी तरह से वर्जित रहेगा ।

विवाह , जीवीत सन्तानों आदि के संबंध में शपथ – पत्र / वचन पत्र आदि नियुक्ति की प्रक्रिया के दौरान प्राप्त नहीं किये जा सकेगें

। इसका दस्तावेजों के सत्यापन से कोई संबंध नहीं होगा ।

यहाँ यह भी सु स्पष्ट किया जाता है कि मध्यप्रदेश शासन स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा मध्यप्रदेश राज्य स्कूल शिक्षा सेवा ( शैक्षणिक संवर्ग ) या शर्त एवं भर्ती नियम , 2010 के अनुसरण में अभ्यर्थी का नियुक्ति के संबंध में विज्ञापन जारी किये जाने के दिनांक अर्थात विषयांकित मामले में दिनांक 30 . 12 . 10 तक उपाधि पारित किया जाना अनिवार्य होगा ।

10 . इस कार्यालय के पत्र / एनसी / एफ / 44 / नियो . / अभिःसत्यापन / 2019 / 23 – 24 , दिनांक 02 . 01 . 2020 द्वारा प्रसारित निर्देशी की कण्टिका – 2 में निम्नानुसार आँशिक संशोधन किया जा रहा दस्तावेजों के सत्यापन का दायित्व पूरी तरह से संभागीय संयुक्त संचालक तथा जिला शिक्षा अधिकारी का होगा ।

Leave a Comment

Your email address will not be published.