list of EMRS Schools in INDIA

EMRS की शुरुआत 1997-98 में दूरस्थ क्षेत्रों में ST बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए हुई, ताकि वे उच्च और व्यावसायिक शैक्षिक पाठ्यक्रमों में अवसरों का लाभ उठा सकें और विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार पा सकें। स्कूल न केवल शैक्षणिक शिक्षा पर बल्कि छात्रों के सर्वांगीण विकास पर ध्यान केंद्रित करते हैं। प्रत्येक विद्यालय में कक्षा छठी से बारहवीं तक के छात्रों के लिए 480 छात्रों की क्षमता है। संविधान के अनुच्छेद 275 (1) के तहत अनुदान के तहत स्कूलों के निर्माण और राज्य सरकारों को आवर्ती खर्च के लिए अनुदान दिया गया था।

Advertisement

list of EMRS Schools in INDIA

Leave a Comment

Your email address will not be published.