एक ऐसी महिला की कहानी जिसने अपनी 90 प्रतिशत पेंशन गरीबों को खाना खिलाने के लिये दान कर दी

दोस्तों आज हम आपको एक ऐसी महिला की कहानी बताने जा रहे हैं|  जिसने अपनी पेंशन का 90% हिस्सा गरीबों को खाना खिलाने के लिए दान कर दिया| 

Advertisement

यह महिला कोई अमीर महिला नहीं थी| सामान्य  वृद्ध अवस्था के ₹600 पाने वाली महिला ने ,अपनी पेंशन का  लगभग 90%  ₹500 गरीबों को खाना खिलाने के लिए दान कर दिए |

कमला अम्मा की कहानी

यह कहानी मैसूर की एक महिला की है | रोटरी हेरीटेज मैसूर के कुछ सदस्य अपने  गरीबों को अन्नदान के कार्य में लगे हुए थे|  तभी वहां 70 साल की एक महिला आई|  इनका नाम  कमलाअम्मा  है| संस्था के सदस्यों ने सोचा कि है कोई गरीब महिला है जो भोजन मांगने के लिए आ रही है| तो उन्होंने कुछ भोजन के पैकेट उनकी तरफ बढ़ा दिए| लेकिन उन्होंने भोजन लेने से मना कर दिया | और अपने कपड़ों में  कुछ ढूंढने लगी|  

उन्होंने कहा मैं पिछले 1 महीने से आप लोगों को यहां भोजन बांटते हुए देख रही हूँ | इसलिए मैं अपनी पेंशन ₹600 में से ₹500 आपको सहायता के रूप में दान कर रही हूं|  यह  एक छोटी रकम है | कृपया इसे स्वीकार करें|

सभी लोग अचंभित हो गए| और उन्होंने अम्मा को अपने रुपए वापस रखने को कहा पर वह महिला नहीं मानी | उसकी प्रार्थना के बाद समिति के सदस्यों ने  वह रुपए सहायता स्वरूप स्वीकार कर लिये |  वह महिला वास्तव में किसी महान व्यक्ति से कम नहीं थी |जिसने अपनी सारी इनकम का 90% दान के रूप में दे दिया |

respect kamalamma .

yes we were truly humbled.

Leave a Comment

Your email address will not be published.